Personal tools
 
You are here: Home Products Ganesh Chaturthi Ganesh 2010 मूर्तियों को सजाने के लिए शोलापीठ की सामग्रियां
Document Actions

मूर्तियों को सजाने के लिए शोलापीठ की सामग्रियां

ईको - एक्सिस्ट, आपके गणेश की मूर्तियों को सजाने के लिए सामग्रियां तैयार करते हैं जो की पूर्णतः प्राकृतिक तरीके से तैयार किये जाते हैं | इसे शोला के नाम से जाना जाता हैं | हमारे पास आपके गणेश को सजाने के लिए माला एवं हस्तनिर्मित गुलाब हैं जिसे विशेषतः बंगाल में तैयार किया गया है | शोलापीठ, थर्माकोल और प्लाटिक की सजावट सामग्रियों का प्राकृतिक विकल्प हैं क्योकि ये सभी सामग्री जैव विघटकीय नहीं हैं | समारोह के बाद, आप इन सजावट की सामग्रियों को अगले साल के लिए या तो सहेज कर रख सकते हैं या इसे आसानी से नष्ट भी कर सकते हैं |

शोलापीठ क्या है ?

शोलापीठ, दूधिया रंग से स्पंज की बनी हुई नक्काशी है, जिससे खूबसूरत एवं नाजुक सजावट की साग्रियाँ बनायीं जा सकती हैं |
शोला, जंगलों के दलदलीय क्षेत्रों में उगते हैं | शोला का जैवकीय नाम ईशिनोमीन इंडिका है | यह एक घासीय पौधा है, जो बंगाल, उड़ीसा और आसाम के दलदलीय क्षेत्रों में उगते हैं | शोलापीठ, पूरे पौधे के अन्दर का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा होता है जिसका व्यास 11/2 होता है | पुराने ज़माने में शोलापीठ का प्रयोग हिन्दू देवी - देवताओं और दूल्हा - दुल्हन को सजाने के लिए किया जाता था | अब के समय में शोलापीठ का प्रयोग घरों को सजाने के लिए किया जाता है |
शोलापीठ, थर्माकोल जैसा ही है, मगर प्रयोग में उससे कई गुना बेहतर है |

 
 
 
Designed and managed
under EkDuniya initiative of
OneWorld
 
 

Powered by Plone CMS, the Open Source Content Management System

This site conforms to the following standards: